ILAE in Hindi (हिंदी)

ILAE वेब साइट जानकारी अंग्रेजी में सबसे अधिक है । हालांकि कुछ दस्तावेज अन्य भाषाओं में उपलब्ध हैं हम इस पेज पर आपको सभी दस्तावेजों और संसाधन हिंदी में उपलब्ध कराते है, आप मिर्गी समुदाय के हित के लिए हो सकता है कि हिंदी में कुछ संसाधनों के लिए info info@ilae.org से संपर्क करें।

भारतीय मिरगी समिति

मिरगी  कभी भी किसी को भी प्रभावित कर सकता  हैं। भारतीय मिरगी सोसायटी,(Indian Epilespy Society)  मिर्गी के साथ कल्याण और लोगों के हितों की , और उनके परिवार के सदस्यों, को बढ़ावा देने के लिए और जनता में जागरूकता बढ़ाने के लिए काम करती  है। भारतीय मिरगी सोसाइटी (IES) हम समुदाय के भीतर अपनी पूरी क्षमता तक पहुँचने के लिए परिवार और मिरगी से प्रभावित लोगों के लिए जीवन की गुणवत्ता,  इच्छा सुधार , और व्यक्तियों को सक्षम करने  के रूप में अच्छी तरह से प्रभावित व्यक्ति के लिए सवालों और चिंताओं के जवाब प्रदान करने का प्रयास करते हैं  ।

मिरगी यह मानसिक बीमारी  किसी भी प्रकार नहीं है। मिरगी संक्रामक नहीं है । मिरगी आम तौर पर सोच या खुफिया के एक व्यक्ति की शक्ति को प्रभावित नहीं करता ।

वास्तव में, इतिहास में भी मिर्गी वर्णन है ,कई प्रसिद्ध व्यक्तियों के नाम दर्ज है जो मिर्गी से ग्रसित थे। मिर्गी के बारे में जानने के लिए  बहुत कुछ है। यह आपको सिर्फ निदान किया गया है कि क्या कोई फर्क या बहुत उपयोगी हो सकता है और एक बेहतर जीवन जी मदद कर सकतेI

इस क्षेत्र में अनेक अनुसंधान परियोजनाएं चलायी गई हैं इसके लिए सरकार से सहायता सहित स्‍वास्‍थ्‍य उपचार कार्यकर्ताओं, माता-पिता, अध्‍यापकों तथा समाज के प्रत्‍येक व्‍यक्ति का सामूहिक प्रयास की आवश्‍यकता है। इन विषयों पर भारत में बातचीत एवं पैनल विचार-विमर्श के दौरान विस्‍तार से चर्चा होती है I

यहाँ आप मिर्गी और जीवन के सभी पहलुओं पर इसके प्रभाव के बारे में जानकारी मिल जाएगी

अधिक जानकारी के लिए लिए कृपया हमारी वेबसाइट (www.epilepsyindia.org) पर स्वतंत्र संपर्क करें

Subscribe to the ILAE Newsletter

To subscribe, please provide your email address.